Monday, January 09, 2012

Crady


2 comments:

Kunal said...

haha...

get used to it... :P :-)

vidya said...

crady is good.

and ur blog..
mostly dark but nice...
gdluk

इश्क़ मुहब्बत वाला लौंडा जब झंडा लेकर घूमने लगा

2012 के मई की चिलचिलाती गर्मी चीटियों की तरह शरीर पर चुभ रही थी| ज़मीन एक एक क़तरा पानी के लिए ललचाये निग़ाहों से आसमान की तरफ़ ताक रहा था, लेक...