Friday, April 08, 2011

Bhak Sala

Some of my Sketches Bhak Sala



Will post some more ... :)

4 comments:

बाबुषा said...

:-):-)

thoda fonts to bade rakho ! Mujhe chashma lagta hai !

crazy devil said...

ohh.. click once on the pic..it will enlarge :)

डिम्पल मल्होत्रा said...

:-)

vijay kumar said...

Nice :)

इश्क़ मुहब्बत वाला लौंडा जब झंडा लेकर घूमने लगा

2012 के मई की चिलचिलाती गर्मी चीटियों की तरह शरीर पर चुभ रही थी| ज़मीन एक एक क़तरा पानी के लिए ललचाये निग़ाहों से आसमान की तरफ़ ताक रहा था, लेक...